अपने बाय्फ्रेंड की रंडी बनी – Hindi Sex Stories

मैं एक मिड्ल-क्लास फॅमिली से हू, स्टडी मे एवरेज स्टूडेंट, मेरे 4 बीएफ रह चुके है और चारो को मैने अपने शरीर के पूरे मज़े दिए. हिन्दी सेक्स स्टोरी

मैं 23 साल की हो चुकी हू और बहोत ही सेक्सी दिखती हू मुझे 18 साल की उमर से ही ये सब चीज़ो के बारे मे पता चल गया था और बोहोत बार देख भी चुकी हू पापा मम्मी को करते हुवे.

लेकिन कभी करने का मौका ना मिला लेकिन एक दिन मैने इंटरनेट पे स्लेव सेक्स का पता चला मैं बोहोत आकर्षित हुई स्लेव सेक्स से और तब से मुझे सेक्स स्लेव बनने का भूत चढ़ गया.

मैं सेक्स तो बोहोत कर चुकी हू अभी तक अपने सारे बीएफ के साथ वो भी दिन दिन भर, लेकिन अब मैं बहोत टाइम से एक रिलेशन्षिप मे हू वो है आजू मेरा बीएफ मेरे से 3 साल बड़ा है और एमएलए का लड़का है मैं बहोत खुश हू उसके साथ रह के रीलेशन मे एमएलए का लड़का है इसलिए लिए फूल मज़ा नो वरी घूमने का खाने का ऐश ही है वो मेरे एरिया का ही है.

More Hindi Sex Stories

[wpp limit=3 cat='4' stats_views=0 range='last24hours']

लास्ट टाइम हम लोग गोआ के ट्रिप पे गये थे हम दोनो और उसके 4 दोस्त भी थे, फॉर्चूनर कार मे हम लोग गये थे स्पेस बहोत बचा था कार मे लास्ट का सीट तो पूरा खाली था और तो और उतने लड़को मे मैं अकेली लड़की मैने शर्ट एंड शॉर्ट डाला था जोकि बहोत ही छोटे थे.

और मेरी बट पूरा एक्सपोज़ हो जाते थे जब मैं चलती थी हम लोग ऑन द वे थे गोआ जाने के लिए रोहित जोकि आजू का दोस्त है वो ड्राइव कर रहा था और उसके बाजू मे नितिन उसके पीछे मिडल सीट मे राघव एंड विनीत थे आजू और मैं लास्ट के सीट मे थे.

आजू ने जान बुझ के लास्ट वाली सीट पे बैठाया था मुझे लेके मुझे पता था क्या होने वाला है आजू ने मेरे शर्ट की सारे बटन’स खोल दिया बूब्स को सहलाने लगा.

More Sexy Stories Mera pahla sex chote ladke ke sath hot Story
धीरे धीरे ब्रा भी निकाल दिया मेरे बूब्स नंगे हो गये मेरी वो एक नही सुनता सेक्स का दीवाना है मैं उसे हर वक्त नंगी ही अछी लगती हू.

More Hindi Sex Stories

[wpp limit=3 cat='4' stats_views=0 range='last4hours']

अब मैं सिर्फ़ अपने शॉर्ट मे ही थी वो भी इतने लोगो के साथ जब भी जंपर या स्पीड ब्रेकर आते थे मेरे नंगे बूब्स उछल जाते थे.

वो देख के आजू बहोत हस ता था उसने मेरे बूब्स को चाटना चूमना शुरू कर दिया निप्पल को काटने लगा मैने भी उसका 8 इंच का हात मे लेके उपर नीच करने लगी.

अब उसने मेरे शॉर्ट्स को खोलदिया और इशारा किया इसे भी उतार दे, मुझे बहोत शर्म आ रही थी पहले तो लेकिन अब तो मेरी शरम भी मार गई और मैने निकाल दिया मुझे भी मज़ा आने लगा था.

मैं पूरी नंगी बैठी थी लेदर सीट पे इतने लोगो के बीच मे मना भी नही कर पाती उसे बिकोझ आई लाइक इट, आजू ने मुझे चूसने के लिए बोला तो मैने मुमे भर लिया उसका 8इंच लंबा लंड और क्या फिर चाट ने लगी लेकिन उसे नॉर्मल ब्लोवजोब नही अछा लगता हार्ड ब्लोवजोब देना पड़ता है मुझे.

इसलिए मैं चूसने लगी चाट ने लगी और उसकी जिसकी वजह आवाज़े आने लगी आगे मैने देखा मिड्ल सीट मे विनीत उसका फ्रेंड मज़े ले रहे थे उनका लंड भी बाहर था और ब्लू फिल्म चालू था मैं डर गई.

लेकिन आजू ने फिर मुझे नीचे झुका के मेरे मूह मे ढ़ुस दिया लंड और मैं फिर से लोलीपोप चूसने लगी चाटने लगी वो भी मोनिंग करने लगा और मेरे मु मे ही झड़ गया.

आप लोगो को मैं एक बात बता दू मुझे उसका मेरे मु मे झाड़वाने की आदत हो गई है क्यू की आजू का बंगलोव मेरे फ्लॅट से ज़्यादा दूर नही तो उसका जभि मन करता है मेरे घर पे या उसके घर पे किसी भी मौके को आजू खाली नही जाने देता.

More Sexy Stories कैसे मैने अपनी चुदाई पंडित से करवाई
वो ब्लोवजोब लिए बिना मानता नही वो जब भी बोले मुझे उसका चूसना पड़ता था है चाहे जहा भी बोले वो मुझे चूसने को अगर घर पे मौका ना मिले तो कितनी बार उसके कार्स मे ही चूसना पड़ता है उसका मुझे.

तो इस हद तक वो सेक्स का दीवाना था, मैं वापिस अपनी स्टोरी पे आती हू जब वो कार मे मेरे मूह मे झड़ गया उसका पानी मेरे मु के बाहर भी टपक रहा था मैं थूकना चाहती थी.

लेकिन लास्ट सीट पे कोई विंडो नही थी उसने मुझे बोला बेबी गीटक मैं ना चाहते हुवे मुझे पी जाना पड़ा ऐसा पहेली बार हुवा था मेरे साथ लेकिन मेरे पास कोई ऑप्षन नही था मैं उसका चाट के साफ किया और फिर उसने पैंट पहन लिया.

लेकिन मुझे उसने नही पहनने दिया बस शॉर्ट मे ही बैठी रह गई पूरे रास्ते नंगी ही थी मैं कार मे सब लड़के मेरी बूब्स के बहोत तारीफ करने लगे और तो और सब ने मिलकर बहोत मसला भी मुझे भी अछा लगने लगा था ये सब.

सब लड़के मेरे से 3 से 4 बड़े थे लास्ट्ली हम लोग रात 9 बजे गोआ के होटेल मे पहुचे होटेल का नाम ताज एग्ज़ोटिका गोआ था जिसमे 1 रूम बुक था.

लेकिन मैने रूम मे जाके आजू को पूछ मैं किधेर सौन्गि तो उसने बोला बेबी हम सब एक ही साथ सोएंगे मैंने भी ज़्यादा सोचा नही और सब थके भी बोहोत थे तो सब सोने के लिए चले गये उस रूम मे 7 बेड्स थे तो सब लोग एक एक पे हो गये..

मैं आजू के बेड पे सो गई ड्रेस चेंज करके वैसे भी मैने अंदर कुछ नही पहना था सब गाड़ी मे ही निकाल चुकी थी मेरा ब्रा और पैंटी मे एक लोवर और एक टॉप डाल लिया लेकिन आजू वो भी निकाला वाइल्डली और मेरे उपर चढ़ गया मेरे लिप्स चूमने लगा मेरी चुत को रगड़ने लगा मैने आजू का हिला के खड़ा किया.

और बोली जानू डालदो और क्यू तडपा रहे हो लेकिन उसे तो ब्लोवजोब चाहिए था तो मैने फिर से उसका चूसना शुरू किया और उसे सॅटिस्फाइ किया और फिर उसने मेरे चुत मे अपना 8 इंच का लंड बहोत बे रहमी से घुसा दिया और पेलने लगा.

15 मिनट तक झटके मारने के बाद मैने उसका फिरसे मु मे लिया वो मेरा मु चोदने लगा और सारा पानी छोड़ दिया मैने वो सारा पानी बिना बोले पी गई थी मैं कपड़े पहनने लगी लेकिन उसने वो सारे कपड़े दूर फेक दिए मुझे वैसे ही नंगी सोना पड़ा रात भर.

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट सेक्षन मे ज़रूर लिखे, ताकि देसीकाहानी पर कहानियों का ये दौर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

दोस्तो मेरी हिन्दी सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी ज़रूर बताना आई एम वेटिंग फॉर युवर कॉमेंट यू कॅन ऑल्सो मैल मी मेरी मैल आईडी है