गर्लफ्रेंड की मॉं के साथ मज़ा – Hindi Sex Stories

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम चंदन है ये कहानी कुछ साल पहेले की है, जीएफ़ का नाम सीमा है,,,,, वो तो दिखने मे मस्त है और उसकी मा तो मानो सेक्स की देवी बिल्कुल मिल्फ टाइप की जो देखेगा वही चोदने का मन करेगा. सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी

सीमा के पापा की डेत 20 साल पहले हो चुकी थी जब सीमा 3 साल की थी ,आंटी का उमर सिर्फ़ 45 साल था लेकिन लगती नही थी, बूब्स एक दम टाइट गॅंड तो मानो फुटबॉल है, आंटी को सीमा और मेरा रीलेशन के बारे मे पता था, उनके तरफ से कोई ऑब्जेक्षन नही था आंटी भी कभी कभी बात करती थी फोन पे हमारे घर पे भी सब राज़ी थे.

एक दिन सीमा को प्रॉजेक्ट के लिए देल्ही जाना था, मैने उसे एरपोर्ट पे ड्रॉप कर के निकल ही रहा था की आंटी का फोन आया और आंटी बोली की ‘चंदन आज रात को हमारे घर पे रुक जाना मुझे रात को अकेले बहुत डर लगता है और खाना भी हमारे घर पे खाना है तुम्हे, मैने कहा लेकिन आंटी.

loading...

तो वो बोली लेकिन वेकीन कुछ नही बस आ जाना मैने कहा ठीक है .फिर मैं रात के 9 बजे उनके घर पहुचा आंटी एक नाइटी मे थी उनका निप्पल्स साफ पता चलता था, मैं थोड़ा कंट्रोल किया और अंदर चला गया.

आंटी बोली चलो खाना खा लेते हैं उसके बाद बाते करेंगे मैने कहा ठीक हैं फिर हम खाना खाने लगे. आंटी जब मुझे खाना देती थी तब वो थोड़ा झुक के देती और उनका बूब्स साफ दिखाई देता था क्या बूब्स थे एक दम मख्खन थे.

मन कर रहा था की बूब्स को चाट लून, मुझे रात को अंडरवेर पहनना पसंद नही इस लिए मैने पहना नही था और मेरा लंड थोड़ा थोड़ा गरम हो रहा था मुझे किसी भी तरह कंट्रोल करना था, फिर हमने खाना ख़तम किया और टीवी देखने सोफे की तरफ चले गये.

More Sexy Stories मम्मी की फ्रेंड को चोदा
ऐसे ही बात कर रहे थे की आंटी ने अचानक पूछा की ‘तू और सीमा कितनी बार सेक्स करचुके हो’ मैं तो ये सुन के चौक गया मैने कहा आंटी आप ये क्या बोल रही है तो आंटी बोली शरमाओ मत बोला, मैं थोड़ा शर्मा के कहा आंटी बहुत बार उसका कोई हिसाब नही है.

आंटी थोड़ा हस के बोली इसमे शर्माने की क्या बात है ये तो नॅचुरल चीज़ है सब करते हैं, आंटी बोली की ‘मैं इस लिए पूछी की तुम्हे थोड़ा कंफर्टबल फील हो मेरे साथ ,और मेरा एक काम करदोगे’. मैने कहा क्या …तो आंटी तो बोली ‘अगर सीमा होती तो कोई प्राब्लम नही होता.

loading...

मैने कहा मुझे कहो मैं कर दूँगा, तो आंटी बोली ‘मेरा थोड़ा तेल मालिश करदोगे पूरे बदन पे नही तो मुझे ठीक से नींद नही होगा और ऐसा एक आयुर्वेदिक तेल है जो मैं रोज लगाती हू.

प्लीज़ थोड़ा मालिश करदो, मैं थोड़ा सोचा फिर कहा हाँ ठीक है लाओ कर दूँगा तो आंटी बोली ‘वहाँ मालिश टेबल है वाहा चले जाओ मैं कपड़े चेंज करके, तेल लेके आती हू ..मैने कहा ठीक है, थोड़ी देर बाद आंटी आई और उन्हे देख के तो मैं एक दम शॉक था.

वो एक टॉवेल मे थी और उनका बूब्स मानो बाहर निकल ने के लिए बेकरार है मेरा तो लंड सलामी ठोक ने के लिए तैइय्यार था ..आंटी पास आई और उस मालिश टेबल पे लेट गयी सर नीचे कर के और टोवल खोल दी मेरा तो हालत खराब हो रहा था वो बिल्कुल नंगी थी ,,,उनका गॅंड तो एक दम मस्त था मन कर रहा था की गॅंड की होल मे डाल दू लंड.

फिर मैने थोड़ा कंट्रोल किया फिर आंटी बोली क्या हुआ शरमाओ मत सोच लो की मेरी नही सीमा की तेल मालिश कर ना है और सीमा तुम्हारे सामने नंगी लेटी है और एक बात चुत और गॅंड का मालिश आछे से करना उंगली डाल के.

More Sexy Stories मा बहनो की चूत का नशा
मैं तो एकदम पागल हो रहा था फिर मैने कंट्रोल किया और तेल मालिश करना शुरू किया पहेले उनके बॅक पे तेल लगाया मालिश किया मालिश करते करते उनके बूब्स साइड से टच हो रहा था, मैं तो एक दम बिंदास हो के मालिश कर रहा था और मेरा लंड तो खड़ा हो चुका था.

थोड़ी देर बाद आंटी बोली थोड़ा तेल आछे से गॅंड और चुत मे लगा देना मैने कहा हाँ ठीक है आंटी, फिर मैने मालिश करना शुरू कर दिया, मैं थोड़ा ज़्यादा तेल उनके गॅंड और चुत मे डाल दिया और मालिश करने लगा उनके चुत और गॅंड मे उंगली डाल के मालिश कर रहा था आंटी तो ज़ोर ज़ोर से सांस ले रही थी.

मेरा तो लंड का बुरा हाल था फिर आंटी ने कहा बस अब आगे की कर दो जब वो सामने की तरफ लेटी मज़ा आ गया उनका चुत एक दम क्लीन था ….बूब्स भी मानो मस्त था मैं तेल लेके उनके बूब्स पे लगाया और मालिश करना शुरू कर दिया मैं तो ज़ोर ज़ोर से मालिश कर रहा था उनके चुत मे तेल डाल के मालिश कर रहा था की आंटी ने मेरा पैंट खींच दिया अचानक झटके मे.

मैं तो एक ट्राउज़र मे था अंडरवेर भी नही पहना था …आंटी लंड पकड़ के चूसने लगी मैं जान लिया की आंटी फुल मूड मे है और मैं भी उनका साथ देने लगा उनके चुत मे उंगली डाल के ज़ोर ज़ोर से उंगली करने लगा थोड़ी देर बाद आंटी बोली और कंट्रोल नही हो रहा है अब डाल दे मैने उनके चुत मे लंड डाल के चोद ना शुरू कर दिया.

10 मिनट चोदने के बाद मैने कहा आंटी थोड़ा गॅंड मे हो जाए, तो बोली हाँ डाल दे मैने एक झटके मे डाल दिया और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा.

15 मिनट चोदने के बाद मैं झड़ गया उनके गॅंड मे तो आंटी अपना उंगली गॅंड मे डाल के रस निकाल के चाटने लगी इस तरहा रात भर मैने चोदा.

सीमा तो 3 दिन के लिए बाहर थी मैने 3 दिन तक आंटी को चोदा जाम के, फिर 3 दिन बाद सीमा वापस आ गई उसे भी चोदा, जबही मौका मिलता है आंटी को चोदता हूँ. सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट सेक्षन मे ज़रूर लिखे, ताकि देसीकाहानी पर कहानियों का ये दौर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

अगर सीमा घर पे हो और मौका मिले तो मैं आंटी का बूब्स दबा देता हूँ और उनकी चुत भी टच करता हूँ, बाइ टेक केर.